Ads

Saturday, May 9, 2020

Thando re Thando Garhwali Song Lyrics


ठंडो रे ठंडो गढ़वाली लोकगीत लिरिक्स Thando Re Thando Garhwali Song Lyrics in Hindi - Narendra Singh Negi


ठंडो रे ठंडो गढ़वाली लोकगीत लिरिक्स


ठंडो रे ठंडो गढ़वाली लोकगीत लिरिक्स Thando Re Thando Garhwali Song Lyrics in Hindi

Singer - Narendra Singh Negi 
Youtube Video Link - Thando Re Thando

हो हो हो
हो हो हो हो

आ आ आ
हो हो हो हो

 ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हव्वा ठंडी पाणी ठंडो
ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हव्वा ठंडी पाणी ठंडो

हो हो हो
हो हो हो हो
आ आ आ 
हो हो

ऐंच ऊच हियूं हिवाल ठंडो -ठंडो
निस्स गंगा जी को छाल ठंडो -ठंडो
ऐंच ऊच हियूं हिवाल ठंडो -ठंडो
निस्स गंगा जी को छाल ठंडो -ठंडो

छौया छन छाडा पंदियार 
हो  हो  हो  हो
छन बुगियाल ढाल दार
हो  हो  हो  हो

छौया छन छाडा पंदियार
छन बुगियाल ढाल दार
रोला पाखा गोऊ उड्यार
        ठंडो ठंडो

ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हव्वा ठंडी पाणी ठंडो
ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हव्वा ठंडी पाणी ठंडो

रौसुला बुरांस कैल ठंडो -ठंडो
बांज देवदार छैल ठंडो -ठंडो
रौसुला बुरांस कैल ठंडो -ठंडो
बांज देवदार छैल ठंडो -ठंडो

डंडा वार डंडा पार हो हो हो हो
बाटा-घाटा खाल धार हो हो हो हो

डंडा वार डंडा पार
बाटा- घाटा खाल धार
सार क्यार गोऊ गुठियार
        ठंडो ठंडो

ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हव्वा ठंडी पाणी ठंडो
ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हव्वा ठंडी पाणी ठंडो

हो हो हो
हो हो हो हो
आ आ आ 
हो हो

बांद बो की चाल-ढाल ठंडो -ठंडो
स्वामी जी बिना बग्वाल ठंडो -ठंडो
बांद बो की चाल-ढाल ठंडो -ठंडो
स्वामी जी बिना बग्वाल ठंडो -ठंडो

घोर -वोंड़ खबर सार हो हो हो हो
चिठ्ठी का कतर मा प्यार हो हो हो हो

घोर -वोंड़ खबर सार
चिठ्ठी का कतर मा प्यार
भोजी भेजी की जग्वाल 
       ठंडो ठंडो

ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हव्वा ठंडी पाणी ठंडो
ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हव्वा ठंडी पाणी ठंडो


हो हो हो
हो हो हो हो
आ आ आ 

हो हो

पूष की छुयांल रात ठंडो-ठंडो
सौजडि़यो की छुंई बात ठंडो-ठंडो
पूष की छुयांल रात ठंडो-ठंडो
सौजडि़यो की छुंई बात ठंडो-ठंडो

मीठू माया कु पाग हो हो हो हो
जलोण्या ज्वानी की आग हो हो हो हो

मीठू माया कु पाग
जलोण्या ज्वानी की आग
गुस्सा नशा डीस राड़ 
ठंडो‌ ठंडो

ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हवा ठंडी पाणी ठंडो
ठंडो रे ठंडो मेरा पहाड़े की हवा ठंडी पाणी ठंडो 

हो हो हो
हो हो हो हो
आ आ आ 


हो हो

हो हो हो
हो हो हो हो
आ आ आ 

हो हो


                      धन्यवाद
                 जय हिन्द जय उत्तराखंड

दोस्तो अगर आपको गढ़ रत्न श्री नरेंद्र सिंह नेगी जी का यह लोकगीत पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ अवश्य साझा करें ।




2 comments: